डेंगू बुखार से बचाव एवं नगरीय विद्यालयों में कायाकल्प के कार्यों से सम्बन्धित की गई समीक्षा बैठक।

डेंगू बुखार से बचाव एवं नगरीय विद्यालयों में कायाकल्प के कार्यों से सम्बन्धित की गई समीक्षा बैठक।
पीलीभीत सूचना विभाग 31 अगस्त 2021/जिलाधिकारी  पुलकित खरे की अध्यक्षता में डेंगू बुखार के प्रति नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में बचाव एवं रोकथाम हेतु आवश्यक उपायों व नगरीय क्षेत्र के विद्यालयों में कायाकल्प के कार्यों को पूर्ण करने के दृष्टिगत समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट कार्यालय में सम्पन्न की गई। मथुरा, मैनपुरी जिलों में डेंगू के प्रकोप को दृष्टिगत रखते हुये जनपद में आम जनमानस को डेंगू से बचाव सम्बन्धी उपायों के प्रति जागरूक करने के साथ साथ स्वास्थ्य विभाग, नगर निकाय व ग्राम पंचायत द्वारा साफ सफाई व अन्य दिशा निर्देशों के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि एंटी लार्वा व फोगिंग का कार्य नगर पालिका व नगर पंचायत से समन्वय स्थापित करते हुये अभियान चलाकर कार्य किया जाये। उन्होंने कहा कि लोगों को जागरूक किया जाये कि अपने घरों/छतों पर किसी वस्तु, टायर, डिब्बे, कूलर में पानी भरा ना रखा जाये, अपने आस पास भी जलभराव की स्थिति न पैदा होने दें। इस दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि डेंगू मच्छर का लार्वा साफ पानी में विकसित होता है। इस दौरान समस्त अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि फोगिंग व छिडकाव से पूर्व स्थानों का चयन कर लिया जाये जहां जल भराव की स्थिति है वहां मशीन के माध्यम से विशेष छिडकाव किया जाये तथा सफाई नायकों को भी निर्देशित किया जाये कि लोगों को जागरूक करें कि अपने घरों में गमलों या किसी वस्तु में पानी भरकर न रखें। जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी पूर्व की तरह विशेष साफ सफाई अभियान संचालित किया जाये, इस सम्बन्ध में योजना तैयार कर ली जाये। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि स्कूल में आने वाले बच्चों को फुल आस्तीन के पकडे़ पहनें और लोगों को भी इस सम्बन्ध में जागरूक किया जाये तथा घरों में मच्छरदानी के अन्दर की रात्रि में सोयें, जिससे की डेंगू से बचा जा सके। बैठक के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सीमा अग्रवाल, अपर जिलाधिकारी वि./रा  अतुल सिंह, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 अश्वनी कुमार, समस्त अधिशासी अधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
इसके उपरान्त नगरीय क्षेत्र के परिषदीय विद्यालयों में कायाकल्प के अवशेष कार्यों की समीक्षा करते हुये अधिशासी अधिकारी बीसलपुर व बिलसण्डा को विशेष निर्देश देते हुये कहा कि अवशेष पैरामीटर को पूर्ण कराना सुनिश्चित किया जाये। बैठक में अधिशासी अधिकारी न्यूरिया अनुपस्थित होने पर चेतावानी जारी करने के निर्देश दिये गये। समीक्षा के दौरान कलीनगर में अवशेष 03 व पूरनपुर में 05 अवशेष पैरामीटर को तत्काल पूर्ण कराने हेतु दिशा निर्देश दिये गये। उन्होंने समस्त अधिशासी अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि यह कार्य प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराना सुनिश्चित किया जाये। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाशत नही की जायेगी। इस दौरान समस्त अधिशासी अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *