केसीसी के रिन्यूअल के नाम पर अवैध वसूली की शिकायत पर संबंधित के विरुद्ध एफ आई आर।

ऽ एसबीआई जहानाबाद में केसीसी के रिन्यूअल के नाम पर अवैध वसूली की शिकायत पर संबंधित के विरुद्ध गोपनीय जांच के उपरान्त दर्ज की गई एफआईआर।
ऽ अन्य बैंकों की भी इस प्रकार की है शिकायतें, गोपनीय जांच के उपरांत की जाएगी कठोर कार्रवाई।
ऽ जहानाबाद एसबीआई बैक में ज्वाइंड मजिस्ट्रेट ने गोपनीय जाँच के उपरान्त मारा छापा, मौके पर आरोपी को कार्य करते हुए पकड़ा।
पीलीभीत सूचना विभाग 08 सितम्बर 2021/जिलाधिकारी महोदय द्वारा जहानाबाद एसबीआई बैंक में केसीसी रिन्यूअल व बनाने के नाम पर मुकेश कुमार पुत्र श्री भगवानदास नामक व्यक्ति द्वारा किसानों से की जा रही वसूली के संबंध में शिकायतकर्ता श्री सुनील कुमार पुत्र देवदत्त द्वारा शिकायत की गई कि सरकार द्वारा मिलने वाली विभिन्न ऋण योजनाओं जैसे के.सी.सी. बनवाने में अवैध रूप से लाभ प्राप्त करता है जिससे बैंक की छवि धूमिल हो रही है। प्राप्त हुई, शिकायतों का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी द्वारा ज्वाइंड मजिस्ट्रेट नूपुर गोयल जांच करने के निर्देश दिये गये। ज्वाइंड मजिस्ट्रेट द्वारा शनिवार को गोपनीय रूप से बैंक जाकर स्थानीय लोगों से इस संबंध में पूछताछ की गई और साथ ही साथ गोपनीय रूप से केसीसी के रिन्यूअल व बनाने के संबंध में जानकारी प्राप्त करने पर लोगों द्वारा अवगत कराया गया कि मुकेश कुमार नामक व्यक्ति द्वारा केसीसी बनवाने व रिन्यूअल का कार्य किया जाता है। जबकि मुकेश कुमार बैंक का कर्मचारी न होने के बावजूद भी बैंक के खुलने से लेकर शाम तक बैंक में रहता है। इसके उपरांत सोमवार को भी ज्वाइन मजिस्ट्रेट द्वारा बैंक में जाकर गोपनीय रूप से मुकेश के द्वारा की जा रही गतिविधियों के संबंध में जानकारी ली गई। इसके बाद विदित हुआ कि मुकेश कुमार द्वारा केसीसी रिन्यूअल व बनवाने का कार्य किया जा रहा है और साथ ही साथ साहूकारों के माध्यम से पैसा लेकर रिन्यूअल कराने के उपरांत किसानो को सरकार द्वारा प्रदान की जा रही सब्सिडी में हिस्सा लेता है। इसके बाद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट द्वारा मंगलवार को गोपनीय रूप से बैंक में जाकर छापा मारा गया। मुकेश कुमार को मौके पर बैंक के लोन केबिन में काम करते हुए पाया गया और साथ ही साथ लोगों के पैसे जमा करने का कार्य किया जा रहा था। इस संबंध में तत्काल मैनेजर से मुकेश की आईडी कार्ड की मांग की गई और केबिन में किए जा रहे कार्य के संबंध में पूछताछ की गई, मैनेजर व मुकेश कुमार को तत्काल पूछताछ हेतु कार्यालय लाया गया। मैनेजर द्वारा अवगत कराया गया कि मेरे द्वारा बैंक में 20 दिन पहले ही ज्वाइन किया गया है और मुकेश कुमार द्वारा बैंक में चाय बनाने का कार्य कई वर्षों से किया जा रहा है। वसूली की शिकायत के संबंध में पूछे जाने पर मैनेजर ने बताया इस संबंध में कोई जानकारी नही है। मुकेश कुमार को प्राइवेट रूप से बैंक में कई वर्षों से कार्य किया जा रहा है और उसे 2400 रुपए प्रदान किए जाते है। पूछताछ के दौरान मौके पर एडीएम व कोऑर्डिनेटर एसबीआई बैंक मैनेजर उपस्थित रहे। जहानाबाद के मैनेजर को उक्त के संबंध में कारण बताओ नोटिस प्रदान करते हुए विभागीय कार्यवाही करने हेतु उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया है। इस दौरान संबंधित बैंक अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि अन्य बैंकों की भी इसी तरह की शिकायतें प्राप्त हुई जिनकी आगे गोपनीय जांच कराने के उपरांत कठोर कार्यवाही की जाएगी और साथ ही साथ समस्त बैंकों को भी एक पत्र प्रेषित करने के निर्देश दिए गए कि इस प्रकार कोई व्यक्ति ब्रांच में काम करते हुए पाया गया तो संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। पूछताछ में मुकेश कुमार ने स्वीकार किया कि रिन्यूअल का कार्य किया जाता है। शाखा प्रबन्धक भारतीय स्टेट बैंक पीलीभीत द्वारा मुकेश कुमार ग्राम गौनेरा, जहानाबाद के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *