महिला की हत्या करने के बाद शव से लिपटा:सनकी आशिक

मीडिया स्रोतों से।

_कुल्हाड़ी को घुमाकर चिल्लाया- आज तुझे जान से मार दूंगा,_

*दम निकलने तक करता रहा वार*

*राजस्थान (जालोर/थॉवला)*

जालोर जिले मे आहोर क्षेत्र के थॉवला गाँव मे रविवार को एक तरफा प्यार में प्रेमी ने महिला की हत्या कर दी। महिला का दम निकलने तक कुल्हाड़ी से लगातार वार करता रहा। जब तक महिला की सांसें चलती रहीं, आरोपी चिल्लाता रहा कि, मैं तुझे मार दूंगा। कंधे, गर्दन और शरीर के अन्य हिस्सों पर इतने वार किए कि जमीन खून से लाल हो गई। आरोपी पर पागलपन इस कदर हावी था कि मौत के बाद शव से लिपट गया। पुलिस ने सनकी आशिक को मौके से गिरफ्तार किया। मौत का ऐसा मंजर शायद ही कहीं देखने को मिला है।

*मौत होने तक लगातार करता रहा वार*

थांवला गांव की 32 वर्षीय महिला शांतिदेवी पत्नी शांतिलाल चौधरी मनरेगा मजदूर थी। महिला का पति शांतिलाल महाराष्ट्र में काम करता है। शांतिदेवी के दो बेटे हैं। यहां अपने ससुराल के लोगों के साथ रहती थी। शांतिदेवी रविवार को जोजावर नाडी में मनेरगा के काम कर गई थी। इस दौरान गांव का ही रहने वाला 21 वर्षीय गणेश पुत्र थानाराम मीणा आया। उसने महिला से कहा कि वह उससे प्यार करता है। महिला ने इनकार किया तो गुस्से में आकर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। पागलपन में आरोपी ने कुल्हाड़ी को घुमाकर कहा कि आज तुझे जान से मारकर ही रहूंगा। आरोपी चिल्लाता रहा और महिला की गर्दन टूटने पर भी कुल्हाड़ी से वार करता रहा। जब तक महिला की मौत नहीं हो गई, उसने हमला करना नहीं रोका।

*शव से लिपटा रहा आरोपी*

सनकी आशिक के धारदार हथियार से वार सहकर महिला की मौके पर ही मौत हो गई। मनरेगा के अन्य श्रमिकों ने बचाने का प्रयास भी किया। मगर आरोपी ने उन्हें भी जान से मारने की धमकी दी। डर के मारे सभी लोग पीछे हट गए। महिला की मौत के बाद भी आरोपी का तमाशा खत्म नहीं हुआ। हत्या करने के बाद महिला के शव से लिपट गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। तब भी आरोपी शव को छोड़ने को तैयार नहीं था। पुलिस ने जबरन उसे पकड़कर हिरासत में लिया और शव को अस्पताल पहुंचाया।

*एक तरफा प्यार बना मौत का कारण*

पुलिस ने बताया कि मामले में आरोपी थांवला गांव के रहने वाले गणेश पुत्र थानाराम मीणा को पकड़ा है। आरोपी महिला से एक तरफा प्यार करता था। कई महीनों से पीछा कर परेशान कर रहा था। महिला ने इस बारे में अपने पति शांतिलाल चौधरी को भी बताया था। पति ने आरोपी गणेश मीणा को समझाया भी था, लेकिन वह नहीं माना और अंजाम मौत तक पहुंच गया। मामले में महिला के जेठ गोमाराम पुत्र नाथूराम चौधरी ने हत्या का मामला दर्ज करवाया है। महाराष्ट्र से पति के आने पर पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *