ग्रेजुएशन करने वाली इतनी छात्राओं को मिलेंगे 25000।

सभी तरह के फॉर्म और ऑनलाइन आवेदन का विश्वसनीय प्रतिष्ठान

बिहार में स्नातक (Graduate) पास कर चुकी 53 हजार 600 छात्राओं को राज्य सरकार की तरफ से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. बिहार शिक्षा विभाग ने 134 करोड़ रु के प्रस्ताव पर हरी झंड़ी मिल गई है.

जल्द ही इन स्टूडेंट्स के बैंक खातों में ये राशि भेजी जाएगी. ये प्रोत्साहन राशि सरकारी के साथ वित्त रहित मान्यता प्राप्त कॉलेजों से 2018 के बाद स्नातक पास छात्राओं को दी जाएगी. विभिन्न विश्वविद्यालयों से स्नातक पास लगभग सवा दो लाख छात्राओं ने प्रोत्साहन राशि (Incentives) के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है. पिछले महीने 14 हजार स्टूडेंट्स को लगभग 35 करोड़ दिए गए थे. इसके लिए पहले 11 हजार से ज्यादा छात्राओं को ये राशि दी जा चुकी है. बता दें, मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत स्नातक पास (graduate) सभी वर्ग की छात्राओं को राज्य सरकार के कल्याण विभाग द्वारा एक मुस्त 25000 रुपये की राशि दी जाती है.

आवेदन करने वाली छात्राओं के विश्वविद्यालय और शिक्षण संस्थानों (educational institutions) के जरिए से सर्टिफिकेट की जांच के बाद प्रोत्साहन राशि डीबीटी के जरिए से बैंक खाता में भेजी जाएगी. राज्य के अलग-अलग विश्वविद्यालयों से स्नातक पास 2.20 लाख छात्राओं को 550 करोड़ की राशि देनी थी. अब भी लगभग 1.90 लाख छात्राओं को प्रोत्साहन राशि देना बाकी है.

कुछ कॉलेजों की लापरवाही भी आई सामने

जल्द ही ये राशि छात्राओं के अकाउंट में ट्रासंफर की जाएगी. स्नातक प्रोत्साहन योजना में विवाहित और अविवाहित दोनों ही छात्राओं को राशि दी जाती है. बिहार के वीर कुंवर सिंह, जयप्रकाश नारायण और मगथ विश्वविद्यालय की लापरवाही के कारण तीनों विश्वविद्यालय के मान्यता प्राप्त कॉलेजों की छात्राओं का सत्यापन नहीं हो पाया है. शिक्षा विभाग ने तीनों विश्वविद्यालयों की लापरवाही को गंभीरता से लिया है.

 

उच्च शिक्षा निदेशक ने कहा कि उन्हें हाथों-हाथ सत्यापन करवाकर देना होगा, नहीं तो उन पर कार्रवाई होगी. एक अप्रैल 2021 के बाद स्नातक कर चुकी छात्राओं के लिए योजना की राशि दोगुनी यानी 50 हजार मिलनी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *