599 प्रधानाचार्यों की भर्ती जल्द होगी।

लंबे समय से प्रधानाचार्य की कमी से जूझ रहे सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों को यदि सब कुछ ठीक रहा तो 599 के आसपास प्रधानाचार्य मिलेंगे जिससे शिक्षा का स्तर सुधरेगा और साथ ही साथ युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।

प्रदेश के सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों को जनवरी में 599 प्रधानाचार्य मिलेंगे। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने हाईकोर्ट में चल रही अवमानना याचिका की सुनवाई के दौरान प्रक्रिया तेज करने की बात कही है।

सूत्रों के अनुसार 31 जनवरी तक प्रधानाचार्या भर्ती 2013 की चयन प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।

एक स्कूल के लिए सात अभ्यर्थियों के हिसाब से 599 पदों पर 4193 अभ्यर्थियों का साक्षात्कार लिया जाएगा। वैसे तो एक दिन में 35 अभ्यर्थियों के हिसाब से साक्षात्कार में 120 कार्यदिवस लगना चाहिए लेकिन चयन बोर्ड ने प्रवक्ता भर्ती 2021 की तर्ज पर कम समय में इंटरव्यू पूरा करने का लक्ष्य तय किया है, क्योंकि पहले ही आठ साल का समय लग चुका है।

जो अभ्यर्थी सेवानिवृत्त हो चुके हैं उन्हें बाहर करते हुए कार्यरत शिक्षकों को ही साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा। हाईकोर्ट ने मई 2021 तक साक्षात्कार प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश दिए थे। लेकिन टीजीटी-पीजीटी 2021 की भर्ती के कारण देरी हो गई।

चयन बोर्ड ने हाईकोर्ट में दिया हलफनामा

  • प्रधानाचार्य भर्ती 2013 को लेकर मनीष कुमार तिवारी की ओर से हाईकोर्ट में दायर अवमानना याचिका में चयन बोर्ड ने हलफनामा दाखिल किया है। सूत्रों के अनुसार लिपिकीय त्रुटि के कारण हलफनामा में 31 जनवरी की बजाय 31 दिसंबर तक चयन प्रक्रिया पूरी करने की बात लिख गई है। इसे संशोधित करने के लिए चयन बोर्ड हाईकोर्ट से अनुरोध करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *