विश्व पर्यावरण दिवस- सांसें हो रही कम,आओ पेड़ लगे हम

विश्व पर्यावरण दिवस
सांसें हो रही कम,आओ पेड़ लगे हम
समाधान विकास समिति के तत्वाधान में आज विश्व पर्यावरण दिवस कके अवसर पर आर्य कन्या इंटर कॉलेज में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया |विद्यालय की प्रधानाचार्य सुमन देवी, एकेडमिक रिसोर्स पर्सन अमित शर्मा, कार्यक्रम संयोजिका गुंजन पांडे, गणेश कुमार सहायक अध्यापक प्राथमिक विद्यालय मूसे पुर जयसिंह बरखेड़ा रामविलास,रवि प्रकाश गुप्ता प्राथमिक विद्यालय तखान ने प्रतिभागियों का मार्गदर्शन करते हुए बताया कि पर्यावरण संरक्षण आज हमारी शीर्ष प्राथमिकता है| पर्यावरण को हम सामान्य शब्दों में जल,जंगल,जमीन से समझ सकते हैं |जल संरक्षण,भूमि की स्वच्छता तथा जंगलों में अनावश्यक आवा जाही न करें तो हमारा पर्यावरण संरक्षित रह सकता है |बताया कि यह वृक्ष प्रकाश संश्लेषण द्वारा 20 किलोग्राम कार्बन डाइऑक्साइड शोषित है और 14 किलोग्राम जीवन दायिनी ऑक्सीजन मुक्त करता है, अतः वृक्षारोपण सर्वोच्च प्राथमिकता रखें| गैर जैव अपघटनीय पदार्थों के लिए तीन आर अपनायें रिड्यूस, रीयूज रीसाइकिल अर्थात पुन: उपयोग पुनर्चक्रण तथा उपयोग में कमी का प्रयास करें|किसी भवन निर्माण या व्यावसायिक कार्य को करने से पहले पर्यावरण व जैव विविधता संरक्षण का ध्यान रखें तथा टिकाऊ विकास की दिशा में अग्रसर होँ |औद्योगिक प्रतिष्ठान घनी आबादी से दूर स्थापित करें|रासायनिक उर्वरक व कीटनाशक के स्थान पर जैविक उर्वरक का कीटनाशक का उपयोग करें | समाधान विकास समिति के संदर्भ व्यक्ति लक्ष्मीकांत शर्मा ने प्रतिभागियों तथा अन्य आगंतुकों का आह्वान किया कि आज के दिन कोई एक संकल्प ले जो आपके पर्यावरण संरक्षण के संकल्प को पूरा कर सके तथा अगले वर्ष विचार करें कि हमने वर्ष भर इस संकल्प को पूरा करने के लिए क्या किया| आप स्वयं प्रेरित हो तथा समाज को प्रेरित करें| प्रतिभागियों और आगंतुकों को पर्यावरण संरक्षण हेतु शपथ भी दिलाई गई |इस अवसर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिता में कुमारी महविश आर्य कन्या इंटर कॉलेज,कुमारी अंशिका टाइनी रोज पब्लिक स्कूल, कुमारी अक्षिता जीजीआईसी पीलीभीत, कुमारी परी गुप्ता, कुमारी वैष्णवी गुप्ता लिटिल एंजेल्स स्कूल ने श्रेष्ठ प्रदर्शन किया| इन्हें प्रशस्ति पत्र और पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया| अंशिका शर्मा और रिया कश्यप आर्य कन्या इंटर कॉलेज को दीर्घकालीन प्राकृतिक संसाधन जागरूकता हेतु विशेष पुरस्कार और प्रशस्ति पत्र दिया गया|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *