विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस -खाना हो सुरक्षित बच्चों को करें शिक्षित

विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस

खाना हो सुरक्षित – बच्चों को करें शिक्षित ।

समाधान विकास समिति के तत्वाधान में में विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के अवसर आयोजित ऑनलाइन मोड में जागरूकता कार्यक्रम में बोलते हुए एकेडमिक रिसोर्स पर्सन अमित शर्मा तथा शिक्षिका गुंजन पांडे ने बताया कि खाने से होने वाली बीमारियां लोगों के लिए खतरा बन रही हैं हर साल लगभग खाने से होने वाली बीमारियों के 600 मिलियन प्रकरण सामने आते हैं जिसमें लगभग 420000 लोग मौत का शिकार भी हो जाते हैं l प्रदूषित व अनसेफ फूड के बढ़ रहे खतरे को देखते हुए वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन, फूड एंड एग्रीकल्चर ऑर्गेनाइजेशन और यूनाइटेड नेशंस ने इस दिन को मनाने का फैसला लिया l हम भोजन में सावधानी बरतें तथा खाद्य मानको के प्रति सजग रहें व इन्हे व्यवहार में लाएं l इस अवसर पर चित्रकला व प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया, जिसमें आरजू रिया अंशिका तथा अक्षिता ने श्रेष्ठता दिखाई l संदर्भ व्यक्ति लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया कि एफ ऐ ओ खाद्य सुरक्षा की स्थिति की सर्वमान्य परिभाषा प्रदान करता है |खाद्य सुरक्षा तब मौजूद होती है जब सभी लोगों की हर समय पर्याप्त,सुरक्षित और पौष्टिक भोजन तक शारीरिक,सामाजिक और आर्थिक पहुंच प्राप्त होती है जो उसकी खाद्य आहार संबंधी जरूरत और खाद्य प्राथमिकताओं को पूरा करता है,एक सक्रिय और स्वस्थ जीवन| जैसा होगा आहार – वैसा बनेंगे विचार,स्वस्थ खाना – सेहत का खजाना, खाना हो सुरक्षित – बच्चों को करें शिक्षित,घर का खाना स्वस्थ बनाएं- बाहर का खाना हॉस्पिटल पहुंचाऐ आदि नारों से खाद्य सुरक्षा के प्रति वातावरण बना एवं खाद्य सुरक्षा को गति मिली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *